क्षमा प्राप्ति भइल? कइसे हम अपना सब पाप खातिर परमेश्वर से माफी पा सकऽ तानी?




सवाल: क्षमा प्राप्ति भइल? कइसे हम अपना सब पाप खातिर परमेश्वर से माफी पा सकऽ तानी?

जवाब:
एक्ट 13:38 में घोषणा कइल बा, “ एहसे, हमार भाईलोगन, हम रउआ लोग के बतावल चाह तानी कि पाप के क्षमा करे वाले यीशु रउआ खातिर प्रकट भइल बाड़े।

क्षमा का होला अउर हमरा एकर जरूरत काहे बा?

शब्द 'क्षमा` के मतलब होला स्लेट के साफ कइल, अपराध से मुक्ति, कर्जा के खतम कइल। जब हम केहू के साथ गलत बर्ताव करेनी, त संबंध के फेर से सुधारे खातिर हमनी के ओकरा से माफी मांगे के जरूरत पड़े ला। केहू माफी के पात्र ना होला। क्षमा प्यार, दया अउर किरपा के कार्य हो ला। एकरा बावजूद कि उ तहरा साथ का कइले बा, दोसर आदमी के खिलाफ कौनो बात के छोड़ देबे के निर्णय क्षमा होला।बाइबिल में हमनी से कहल बा कि हमनी सब के परमेश्वर से क्षमा के जरूरत बा। हम सब पाप कइले बानी। इक्लेस्टस 7:20 मे घोषित बा, “ धरती पर कौनो आदमी नेक नइखे जे केवल सही कइले होखे, कभी पाप ना कइले होखे”। 1 जॉन 1:8 में कह ताड़े,” अगर हमनी के दावा करीं कि हम कौनो पाप नइखी कइले, एकर मतलब बा कि हम अपना आप के धोखा दे रहल बानी अउर हमनी में सच्चाई नइखे”। हर पाप अंततः परमेश्वर के खिलाफ एक विद्रोह के कार्य होला। (साम 51:4) ।एही कारण हमनी के हताशा में परमेश्वर के क्षमा के चाहेनी जा। अगर हमनी के पाप के माफ ना कइल जाई, त हमनी के अपना पाप परिणाम अनन्त काल तक सहे के पड़ी (मैथ्यु 25:46; जॉन 3:36) क्षमा- कइसे हम पाइब?

संयोग से, परमेश्वर प्यार करे वाल अउर दयालु बाड़े - हमनी के पाप के माफ कर खतिर तैयार रहेले! 2 पीटर 3:9 हमनी से कह ताड़े,”....उ तहरा साथे सहनशील बाड़े, उ केहू के बर्बादी ना चाहे ले, बाकि हर केहू के पछतावा करे आवे के पड़ी, “परमेश्वर हमनी के माफ करे के इच्छा रखे ले, एही से उ हमनी आपन क्षमा देले बाड़े।

हमनी के पाप के एकमात्र सजा बा- मौत। रोमन 6:23 के पहिला आधा भाग में घोषणा कइल गइल बा कि “ पाप के भुगतान होला मृत्यु...” हमनी के अपना पाप के बदला अनन्त मृत्यु कमइले बानी। परमेश्वर के पूर्ण योजना के मुताबिक, उ इंसान बनले- ईसा मसीह (जॉन 1:1,14) । यीशु शूली पर चढ़ गइले, उ सजा भोगे खातिर जेकर पात्र हमनी के रहीं जा - मृत्यु। 2 कॉरिन्थियस 5:21 हमनी के ज्ञान देले बा, “ परमेश्वर उनका के बनइले जेकरा में कौनो पाप ना रहे, हमनी के पाप खातिर, एह से कि हमनी के परमेश्वर के प्रति धर्मिक बनीं”। यीशु हमनी के सजा भोगे खातिर शूली पर चढ़ के प्राण के त्याग कइले; यीशु के मृत्यु पूरा संसार के पाप खतिर क्षमा बन गइल। 1 जॉन 2:2 में घोषणा कइल गइल बा, “ उ हमनी के पाप के प्रायश्चित करे खातिर त्याग कइले, ना सिर्फ हमन के बाकि पूरा संसार के भी पाप खातिर”। यीशु मृत्यु से उठ के खड़ा हो गइले, पाप अउर मृत्यु पर विजय के घोषणा कइले (1 कॉरिन्थियान्स 15:28) । ईसा मसीह मृत्यु अउर पुनर्जन्म के माध्यम से परमेश्वर के गुणगान कइले, रोमन 6:23 के दूसरका आधा में सत्य कहल बा, “......ईसा मसीह, जे हमनी के प्रभु हवे, जिनका माध्यम से परमेश्वर के अनन्त जीवन के सौगात मिलल

का तू चाहऽ ताड़ कि तहार पाप खातिर क्षमा मिले?

का तहार जुर्म तहार पीछा नइखे छोड़त, अउर ओकर से पीछा छोड़ावे खतिर राह नइखे लउकत? तहार पाप खतिर क्षमा बा, अगर तू अपना रक्षक के रूप में ईसा मसीह में आस्था रखबऽ। इफेसियन 1:7 में कहल बा,” उनका में उनकर रक्त के माध्यम से हमनी के मुक्ति मिल सकऽ ता, पाप खातिर क्षमा, परमेश्वर के असीम दया के साथ”। यीशु हमनी खातिर हमनी के कर्जा चुकवले, एह से हमनी के क्षमा मिल सकेला। तहरा मात्र इहे करेके बा कि परमेश्वर से प्रार्थना करेके बा कि यीशु के माध्यम से तहरा के क्षमा कर देस, आस्था रखऽ कि तहरा क्षमा मिले खातिर यीशु अपना प्राण के त्याग कइले- अउर उ तहरा के माफ कर दिहें। जॉन 3:16-17 इ अद्भुत संदेश में कहल गइल बा,” परमेश्वर, जे संसार के अतना प्रेम कइले कि उ आपन एकमात्र संतान के दे दिहले, कि जे भी उनका में आस्था रखी, उ बर्बाद ना होखी, बल्कि अनन्त जीवन पाई। अपना संतान के संसार में संसार के निंदा करे खातिर ना भेजऽ ले, बल्कि उनका माध्यम से संसार के रक्षा करे खातिर।

क्षमा- का वास्तव में अतना आसान बा?

हाँ, इ अतना आसान बा! तू परमेश्वर से क्षमा नइखऽ प्राप्त कर सकत। परमेश्वर से क्षमा खातिर तू भुगतान नइखऽ कर सकत। परमेश्वर के किरपा अउर दया अउर उनका में आस्था के माध्यम से तू एकरा के पा सकेल। तू अगर ईसा मसीह के आपन रक्षक के रूप में स्वीकार कइल अउर परमेश्वर से क्षमा चाहऽ ताड़ऽ त एहिजा प्रार्थना दिहल बा जे तू कर सकऽ ताड़ऽ । खाली इ प्रार्थना चाहे दूसर कौनो प्रार्थना कइला से तू ना बचबऽ। खाली ईसा मसीह में आस्था ही तहरा के पाप से बचाई। इ प्रार्थना त मात्र परमेंश्वर के बातावे खातिर एगो माध्यम बा कि उनका में तहार आस्था बा अउर धन्यवाद देबे के खातिर कि उनका चलते तहरा मोक्ष मिलल। “ परमेश्वर, हम जानऽ तानी कि हम तहरा खिलाफ पाप कइले बानी अउर सजा के पात्र बानी। बाकि ईसा मसीह हमार उ सजा के ले लेले जे हमरा खातिर बा ताकि उनका में आस्था के माध्यम से हमरा क्षमा मिल जाए। हम मोक्ष खातिर तहरा में आपन आस्था रखऽ तानी। तहार अद्भुत किरपा अउर क्षमा खातिर - धन्यवाद! आमीन!”

एहिजा जवन दिहल बा, का उ पढ़ के रउआ ईसा मसीह खातिर निर्णय लेले बानी? आगर हाँ, कृपा कर के नीचे दिहल बटन के क्लिक करीं “हम आज ईसा मसीह के स्वीकार करऽ तानी”।



भोजपुरी हामपेज में वापस



क्षमा प्राप्ति भइल? कइसे हम अपना सब पाप खातिर परमेश्वर से माफी पा सकऽ तानी?