दुष्टआत्माओ के बारे मे बाइबल क्या कहती है?



प्रश्न: दुष्टआत्माओ के बारे मे बाइबल क्या कहती है?

उत्तर:
प्रकाशितवाक्य 12:9 दुष्टआत्माओ की पहचान के बारे मे सबसे स्पष्ट वचन है, “तब वह बडा अजगर अर्थात् वही पुराना सॉप जो इबलीस और शैतान कहलाता है और सारे संसार का भरमाने वाला है, पृथ्वी पर गिर दिया गया, और उसके दूत उसके साथ, गिरा दिए गए”। प्रकाशितवाक्य 12:4 यह संकेत करता हुआ लगता है कि शैतान ने एक-तिहाई स्वर्गदूतो को अपने साथ मिला लिया था जब उसने पाप किया। यहूदा 6 उन स्वर्गदूतो का उल्लेख करता है जिन्होने पाप किया। बाइबल संकेत करती है कि दुष्टआत्माए गिराए गए स्वर्गदूत है जिन्होने, शैतान के साथ, परमेश्वर के विरूद विद्रोह किया।

शैतान और उसकी दुष्टआत्माए उन सब को जो परमेश्वर की उपासना और अनुसरण कर रहे है नाश करने और भरमाने की खोज मे रहते है। (1 पतरस 5:8; 2 कुरिन्थियो 11:14-15)। दुष्टआत्माओ को बुरी आत्माए भी कहा जाता है (मत्ती 10:1), अशु़द्धआत्माए (मरकूस 1:27), और शैतान के स्वर्गदूत (प्रकाशितवाक्य 12:9)। शैतान और उसकी दुष्टआत्माए संसार को भरमाती है (2 कुरिन्थियो 4:4) मसीहीयो पर आक्रमण करती है (2 कुरिन्थियो 12:7; 1 पतरस 5:8), पवित्र स्वर्गदूतो के साथ युद्ध करते है। (प्रकाशितवाक्य 12:4-9)। दुष्टआत्माए आत्मीक प्राणी है, परन्तु वह भौतिक रूप मे प्रकट हो सकते है (2 कुरिन्थियो 11:14-15) दुष्टआत्माए। गिराए हुए स्वर्गदूत परमेश्वर के शत्रु है, परन्तु वह हराए हुए शत्रु है। क्योकि जो तुम मे है वह उससे जो संसार मे है, बड़ा है (1 यूहन्ना 4:4)।



हिन्दी पर वापस जायें



दुष्टआत्माओ के बारे मे बाइबल क्या कहती है?